रविवार, 26 जनवरी 2014

उर्दू ग़ज़लों का हिंदी अवतार


3 टिप्‍पणियां:

SP Sudhesh ने कहा…

अशरफ़ गिल के ग़ज़लसंग्रह की आप द्वारा लिखित समीक्षा में शायर के
कलाम की कुछ विशेषताएँ सोदाहरण बताई गई हैं । यह पढ़ कर अशरफ़ जी के संग्रह को पढ़ने की उत्सुकता बढ़ गई ।

SP Sudhesh ने कहा…

अशरफ़ गिल के ग़ज़लसंग्रह की आप द्वारा लिखित समीक्षा में शायर के
कलाम की कुछ विशेषताएँ सोदाहरण बताई गई हैं । यह पढ़ कर अशरफ़ जी के संग्रह को पढ़ने की उत्सुकता बढ़ गई ।

गुर्रमकोंडा नीरजा ने कहा…

डॉ एस.पी. सुधेश जी आपके प्रोत्साहन और आशीर्वाद के लिए धन्यवाद